Surah Qadr: In Hindi, Arabic, Roman English

Surah Qadr(in Hindi, English) सूरह क़द्र मक्की सूरह है। अल्लाह ने क़ुरान को क़द्र की रात में उतारा, इस तरह ये सूरह को क़द्र का नाम दिया गया है।ये सूरह को रमज़ान की आखिरी अशरा में शब ए क़द्र को पाने के लिए नफिल नमाज़ में पढ़ी जाती है। अल्लाह ने इस सूरह में कहा है की “हमने (इस कुरान) को शबे क़द्र में नाज़िल (करना शुरू) किया और तुमको क्या मालूम शबे क़द्र क्या है।शबे क़द्र (मरतबा और अमल में) हज़ार महीनो से बेहतर है। इस (रात) में फ़रिश्ते और जिबरील (साल भर की) हर बात का हुक्म लेकर अपने परवरदिगार के हुक्म से नाज़िल होते हैं।ये रात सुबह के तुलूअ होने तक (अज़सरतापा) सलामती है।

Surah VersesSurah WordsSurah LettersSurah Rukus
5321121

Surah Al Qadr In Hindi

Surah Qadr in Hindi

Surah Al Qadr In Arabic

Qadr-In-Arabic

اِنَّاۤ اَنْزَلْنٰهُ فِیْ لَیْلَةِ الْقَدْرِ(1) وَ مَاۤ اَدْرٰىكَ مَا لَیْلَةُ الْقَدْرِﭤ(2) لَیْلَةُ الْقَدْرِ ﳔ خَیْرٌ مِّنْ اَلْفِ شَهْرٍ(3) تَنَزَّلُ الْمَلٰٓىٕكَةُ وَ الرُّوْحُ فِیْهَا بِاِذْنِ رَبِّهِمْۚ-مِنْ كُلِّ اَمْرٍ(4) سَلٰمٌ ﱡ هِیَ حَتّٰى مَطْلَعِ الْفَجْرِ(5)

Surah Al Qadr In English

Surah-Qadr-In-English

Surah Al Qadr Hindi Tarjuma

Surah Qadr Hindi Tarjuma

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *